प्रवासी मजदूरों को रेलवे स्टेशन से लाने,ले जाने में ड्यूटी कर रहे शिक्षक को हुआ कोरोना Corona Alert 2020



प्रवासी मजदूरों को रेलवे स्टेशन से लाने,ले जाने में ड्यूटी कर रहे  शिक्षक को हुआ कोरोना Corona Alert 2020 

बिलासपुर - बिलासपुर से एक बड़ी खबर कोरोना ड्यूटी कर रहे शिक्षक को कोरोना संक्रमित पाया गया है। उक्त शिक्षक की ड्यूटी बिलासपुर रेलवे स्टेशन पर मजदूरों की देख रेख एवं उनको जिला मुख्यालय क्वारंटाइन सेंटर तक छोड़ने की ड्यूटी लगी थी। उक्त शिक्षक तीन चार दिन पहले रेलवे स्टेशन में ड्यूटी कर रहा था। अचानक तबियत ख़राब होने पर उक्त शिक्षक की सेम्पलिंग की गयी थी। आज जो बिलासपुर जिला के अंतर्गत कोरोना मरीज पाया गया है उनमे से एक वही शिक्षक है जो कोरोना ड्यूटी कर रहा था। किसी शिक्षक का कोरोना पॉजिटिव पाया जाना प्रदेश का यह पहला मामला है। प्रशासन शिक्षकों को बिना सुरक्षा किट मुहैया कराये ही इस प्रकार की ड्यूटी लगा रखी है। पुरे प्रदेश में बहुत से शिक्षकों की क्वारंटाइन सेंटर की देखरेख एवं प्रवासी मजदूरों को लाने लेजाने में लगी है। 

कुछ शिक्षकों की ड्यूटी आदेश नीचे डाउनलोड करें- 


शिक्षकों की ड्यूटी आदेश यहाँ डाउनलोड करें। 

प्रवासी मजदूरों को क्वारंटाइन सेंटर तक ले जाने 100 शिक्षकों की लगी ड्यूटी देखें विकासखंड वार सूचि यहाँ  Corona Alert 2020 



Corona Alert 2020 - कार्यालय कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी मुंगेली ने बिलासपुर रेलवे स्टेशन से मजदूरों को बसों से लाने हेतु 100 शिक्षकों की आगामी ड्यूटी 23 मई से लगाई है। उक्त सूचि में पथरिया,मुंगेली एवं लोरमी के 100 शिक्षकों की ड्यूटी लगाई गयी है। संकुल वार सूचि का अध्यन आप नीचे देखें। 

सम्पूर्ण सूचि नीचे डाउनलोड करें


शिक्षकों की ड्यूटी आदेश यहाँ डाउनलोड करें। 

मुंगेली जिला के अंतर्गत 17 गांव को सील करने आदेश जारी,देखें कौन-कौन से गांव को किया गया लॉक डाउन Corona Alert 2020 



मुंगेली- मुंगेली जिले के ग्राम रामपुर में जैसे ही कोरोना मरीज की पुष्टि हुई है तब से जिला प्रशासन अलर्ट हो गया है। कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए ग्राम रामपुर के तीन किलोमीटर दायरे को कन्टेनमेंट ज़ोन घोषित कर दिया है। साथ ही मुंगेली जिले के अंतर्गत 17 गांव को सील करने निर्देश जारी कर दिया है। 

कलेक्टर द्वारा जारी आदेश एवं गांव की सूचि नीचे देखें- 







क्वारंटाइन सेंटर में शिक्षक कर रहे चौकीदारी,ड्यूटी के दौरान एक शिक्षक की मौत ,अब शिक्षक खोजेंगे गांव -गांव कोरोना संदिग्ध मरीज 10000 से अधिक शिक्षकों की लगी ड्यूटी,साथ ही प्रवासी मजदूरों को लाने ले जाने लगी सैकड़ों शिक्षकों की ड्यूटी Now The Teacher Will Find Corona Suspected Patient 




बिलासपुर- प्रवासी मजदूरों को लाने ले जाने एवं कोरोना संदिग्ध मरीजों को ढूंढने तथा क्वारंटाइन केंद्र में मजदूरों की चौकीदारी करने बड़ी संख्या में पुरे राज्य में शिक्षकों की ड्यूटी लगाई जा रही है। कोरोना वायरस से निपटने के लिए अब शिक्षकों को भी मैदान में उतारा जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रो पर अब फोकस किया जा रहा है। क्योंकि बड़ी संख्या में मजदुर दूसरे प्रदेशों से अपने घर लौट रहे है। ऐसे में सर्वे के लिए सरकारी शिक्षकों की ड्यूटी लगाई जा रही है। हर शिक्षक को दो किलोमीटर की दायरे में कोरोना संदिग्ध मरीज को खोजने की जिम्मेदारी दी है। स्वास्थ्य विभाग में सिमित कर्मचारी होने के कारण ब्यापक रूप से ग्रामीण क्षेत्रो के संदिग्धों की तलाश नहीं हो पा रही थी। ऐसे में जिला प्रशासन ने आपातकालीन स्थिति को देखते हुए सर्वे के लिए सरकारी स्कूल के शिक्षकों को जिम्मेदारी दे दी है। हर शिक्षकों को अपने स्कूल के 2 किलोमीटर के दायरे में कोरोना संदिग्ध मरीज की तलाश करनी होगी।

यह भी देखें- नियमित चपरासी के पदों में बम्पर भर्ती प्रारम्भ। 


क्वारंटाइन केंद्र में ड्यूटी के दौरान शिक्षक की मौत- बलरामपुर रामानुजगंज जिले के जिला मुख्यालय से कुछ दुरी पर स्थित सेमली लेंजुआ पारा में आंगनबाड़ी केंद्र को क्वारंटाइन केंद्र बनाया गया था जहाँ पर ड्यूटी के दौरान शिक्षक की मौत हो गयी है। प्राप्त जानकारी अनुसार अंबिकापुर निवासी शिक्षक सिया राम भगत ड्यूटी के दौरान नीचे अचानक गिर पड़े जिससे उसकी मौत हो गयी है। उक्त शिक्षक की मृत्यु हृदयाघात से होने की सम्भावना जतायी जा रही है। शव कोपीएम हेतु भेज दिया गया है। 



क्वारंटाइन केंद्र में चौकीदारी कर रहे शिक्षक- मुंगेली जिले के अंतर्गत पथरिया विकास खंड में शिक्षकों की ड्यूटी चौकीदारी हेतु लगाया गया है। शासन की योजना पढाई तुहर द्वार इससे प्रभावित हो रही है। शिक्षक बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाये या चौकीदारी करें। उक्त ड्यूटी का शिक्षक संगठन विरोध कर रहा है। महिला शिक्षिका एवं दिब्यांग शिक्षकों का भी ड्यूटी लगा दिया गया है। जिस कारण से शिक्षकों में भारी रोष है। 


सरपंच की निगरानी में सर्वे- सर्वे कार्य में किसी भी प्रकार की चूक न हो इस लिए इस कार्य की देखरेख और निगरानी सरपंच करेंगे। हर दिन सर्वे करने के बाद शिक्षक सरपंच को रिपोर्ट भेजेंगे। सरपंच इस बात का ध्यान रखेंगे की शिक्षक सभी घरों में जाकर जानकारी एकत्रित करें।


9138 शिक्षकों की लगी ड्यूटी- वर्तमान में अभी बिलासपुर जिला के अंतर्गत चार ब्लाकों बिल्हा,कोटा,मस्तूरी एवं तखतपुर ब्लॉक में क्रमशः 3420,1675,2053 एवं 1990 शिक्षकों की ड्यूटी लगाई गयी है।

प्रवासी मजदूरों को लाने ले जाने वाले शिक्षकों की ड्यूटी आदेश सूचि यहाँ देखें। 

देश के सम्पूर्ण जिलों की ग्रीन,रेड,ऑरेंज जोन वार सूचि यहाँ देखें Lockdown 3.0 All District Green Red Orange Zone Full List 




Lockdown 3.0 Corona News 2020- कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए केंद्र सरकार ने लॉक डाउन को 2 हप्तों के लिए बढ़ा दिया है। लेकिन लॉक डाउन 3 राहतों वाली है। पिछले लॉक डाउन के मुकाबले इस लॉक डाउन में देश के बड़े हिस्से में आर्थिक गतिविधियों की छूट होगी। देश के सम्पूर्ण जिलों को तीन जोन (ग्रीन जिला,ऑरेंज जिला एवं रेड जिला) में विभाजित कर लिया गया है।  लॉक डाउन -3 पिछले दो लॉकडाउन के मुकाबले काफी नरम होगा। जिसमे ग्रीन  जोन के अतिरिक्त रेड ज़ोन में भी कुछ नियम शर्तों के साथ कई गतिविधियों पर छूट होगी। ग्रीन एवं ऑरेंज ज़ोन में कन्टेनमेंट एरिया एवं उनके बफर जोन को छोड़कर बाकी क्षेत्रों में नाई की दूकान,शराब दुकान,गुटखा पान मशाला आदि की बिक्री की जा सकती है। हालाँकि इस दौरान फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा।

जोनवार कुछ प्रमुख कार्य जिनमे छूट प्राप्त होगी - 


ग्रीन जोन- ग्रीन जोन जिले में राष्ट्रिय प्रतिबन्ध के अतिरिक्त किसी भी प्रकार की प्रतिबन्ध लागू नहीं होगी। अर्थात यहाँ आर्थिक गतिविधि की पूर्ण छूट होगी। यात्री बसे चलाने की छूट होगी लेकिन 50 फीसदी सवारी ही फिजिकल डिस्टेंसिंग के साथ बैठाया जा सकता है। एक ग्रीन जिले से दूसरे ग्रीन जिले में बसें आ जा सकती है।  ऑनलाइन डिलीवरी पर कोई प्रतिबन्ध नहीं होगा।

यह भी पढ़ें- 350 पदों में वनविभाग सरकारी नौकरी भर्ती विवरण। 

ऑरेंज जोन - उक्त ज़ोन में टैक्सियां चलाई जा सकती है लेकिन केवल एक सवारी ही बैठा सकते है। दोपहिया वाहनों में दो सवारियों के आने जाने पर कोई प्रतिबन्ध नहीं होगा। जरुरी सेवाओं हेतु लोग एक जिले से दूसरे जिले में आ जा सकते है। बसों के यहाँ चलने की अनुमति नहीं है।


रेड जोन - यहाँ कुछ जरुरी सेवाओं हेतु निजी वाहन का उपयोग कर सकते है। लेकिन ड्राइवर के अतिरिक्त केवल 2 व्यक्ति ही कार में बैठ सकते है। रिक्शा,ऑटो,ओला,उबर जैसे टैक्सी सेवा पूर्णतः प्रतिबन्ध होगी। यहाँ सैलून,ब्यूटी पार्लर,स्पा खोलने की अनुमति नहीं होगी।

यह भी पढ़ें- 30 पदों में सहकारी विभाग छत्तीसगढ़ में नौकरी भर्ती विवरण देखें। 

लॉकडाउन - 3 के दौरान पुरे देश में शाम 7 बजे से प्रातः 7 बजे तक जरुरी सेवाओं को छोड़कर लोगो को घर से बाहर निकलने की इजाजत नहीं होगी। लॉक डाउन 2 में अंतर्राज्यीय बस सेवाएं,रेलगाड़ी, मेट्रो, हवाई सेवा ,स्कूल, कालेज,होटल,रेस्टोरेंट,बार,सिनेमा हाल,माल आदि बंद रहेंगे।

देश के समस्त जिलों की ग्रीन,रेड एवं ऑरेंज ज़ोन वार सूचि - शुक्रवार को जारी किये गए सूचि के अनुसार पुरे देश में फिलहाल रेड जोन में 130 जिले,ऑरेंज जोन में 284 जिले एवं ग्रीन जोन में 319 जिले शामिल है। सूचि नीचे देखें- 








छत्तीसगढ़ की वर्तमान स्थिति- छत्तीसगढ़ की बात करें तो रेड जोन में रायपुर एवं ऑरेंज ज़ोन में कोरबा है। बाकी सम्पूर्ण जिले ग्रीन जोन में है।

महत्वपूर्ण टीप- यदि आप सरकारी नौकरी की तलाश में है तो नीचे दिए लेटेस्ट वेकेंसी को जानकारी को अवश्य देखें- 


महिला एवं बाल विकास विभाग 187 पदों में बम्पर भर्ती। 

कृषि विश्वविद्यालय रायपुर विभिन्न पदों में सरकारी नौकरी भर्ती। 


Post a comment

0 Comments